Makar Sankranti or Lohri images 2020

0
53
Makar Sankranti images

Happy Maakr Sankranti Wishes in Hindi,English or Gujarati. Makar Sankranti Uttarayan images, Wishes for Makar Sankranti in Gujarati

Makar Sankranti images

Makar Sankranti Wishes

S- Santosh संतोष
A- Anand आनंद
N- Nayavinayate नयाविनायते
K- Keerti कीर्ति
R- Roshni रौशनी
A- Atmiyate अत्मियते
N- Naturity नयी शुरुवात
T- Trupti तृप्ती
I- Iswarya ईश्वरीय
Happy Makar Sankranti 2020

पूर्णिमा की चाँद,
रंगों की डोली,
चाँद से चांदनी,
खुशियों से भरी हो आपकी , झोली,
मुबारक हो आपको रंग बिरंगी,
पतंगों वाली मकर संक्रांति

तिल पकवानों की मिठास पकवानों में भारियाँ,
पतंगों की तरह आकाश में उड़न पैयाँ,
और अपनी मेहनत से अपने बुलंदिओं को संभाल के राखियाँ

मीठे गुड में मिल गए तिल,
उडी पतंद और खिल गए दिल,
हल पल सुख और हर दिन शांति,
आप सब के लिए लाये मकर संक्रांति

एक सुबह नयी सी कुछ धुप,
अब नहीं रहेंगे हम साब चुप,
करेंगे पूजा पाठ,
खायेंगे गुड, तिल लड्डू साथ

TIL hum hai, aur GUL aap,
MITHAI hum hai aur MITHAS aap,
SAAL ke pahale tyohar se ho rahi aaj SHURUWAT.
Aap ko hamari taraf se..
*HAPPY MAKAR SANKRANT*

एक वक्त था जब आधी रात तक
पतंगों की कंनी बनाते थे.
एक वक्त है आज की खिचड़ी पर
भी पतंग नही उड़ाते है.
happy #makrsankrani 

तेरा मेरा साथ पतंग और मांझे सा है ,

गर संग चले तो आसमां छू लेंगे…..

डोर, चरखी, पतंग सब कुछ था
बस उसके घर की तरफ हवा न चली…!!!

काट ना सके कभी कोई पतंग आपकी,
टूटे ना कभी डोर आपके विश्वास की,
छू लों आप जिंदगी के सारे कामयाबी,
जैसे पतंग छूती है ऊंचाइयां आसमान की..
मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं!!

सभी दोस्तों को मकर सक्रांति पर्व की शुभकामनाये…
आपका दिन शुभ और मंगलमय हो ऐसी कमाना करता हूँ..

Uttarayan Makar Sankranti Gujarati Status

Happy Uttarayan images

ફીરકી પકડનારી છોકરીઓ તો ઘણી મળી જશે, મારે તો એવી છોકરી જોઈએ જે દોરીમાં પડેલી ગુંચને ઉકેલી આપે.Pichha Vina MOR N Shobhe,

Moti Vina HAR N Shobhe,
Talvar Vina VIR N Shobhe,
Mate To Hu Kahu Chhu Ke…
Tamara Jeva Dosto Vagar Makar Sankranti Ma Maja Na Aave.
 
Shabdo Tame Aapjo Geet Hu Banavish,
Khushi Tame Aapjo Hasine Hu Batavish,
Rasto Tame Aapjo Manjil Hu Batavish,
Kinnya Tane Bandhjo PATANG Hu Chagavish.

बंदे हें हम गुजराती हम पर किसका ज़ोर
उतरायण में उड़े पतंग चारों ओंर
लंच में खायें ऊँधिया और जलेबी गोल-गोल
अपना मांजा 〰 खुद बनवाने
आज चले हम टेरेस की ओर.!!
Happy Uttarayan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here